DSLR और मिररलेस में क्या अंतर है !!

नमस्कार दोस्तों…आज हम आपको “Mirrorless and DSLR” अर्थात “मिररलेस और डीएसएलआर” के विषय में बताने जा रहे हैं. आज हम बताएंगे कि “मिररलेस और डीएसएलआर क्या है और इनमे क्या अंतर होता है?”. दोनों ही अलग अलग प्रकार के कैमरे हैं, जिनके विषय में हम आपको कुछ जानकारी देने का प्रयास करेंगे. तो चलिए शुरू करते हैं आज का टॉपिक.

DSLR क्या है | What is DSLR in Hindi !!

DSLR का फुल फॉर्म “Digital Single Lens Reflex” है, इस कैमरे में मेमोरी कार्ड की सुविधा उपलब्ध होती है, और उसी के अनुसार या कैमरे की कपीसिटी के आधार पर फोटो सेव की जा सकती है ये भी एक डिजिटल SLR है, इसमें हम अपनी इक्षानुसार जितनी चाहें उतनी फोटो क्लिक कर सकते हैं और फिर फोटो क्लिक करने के बाद उसे सेव या डिलीट भी हम अपनी इक्षानुसार कर सकते हैं और इसमें हम क्लिक फोटो को फ़ोन की फोटो की तरह पहले भी देख सकते हैं, वो भी बिना किसी दिक्क्त के. ये एसएलआर का एक्सटैंड वर्जन है.

DSLR कैमरा में फोटो लेने के लिए ये खास 8 चीजों की आवश्यकता होती है:

1. Camera Lens

2. Reflex Mirror

3. Focal-Plane Shutter

4. Image Sensor

5. Matte Focusing Screen

6. Condenser Lens

7. Pentaprism

8. Viewfinder Eyepiece

मिररलेस क्या है | What is Mirrorless in Hindi !!

मिररलेस को हम “compact system camera” या “CSC” भी कहते हैं. इसका काम भी DSLR कैमरा जैसा ही होता है, लेकिन इसमें लेंस मूवेबल नहीं होते हैं. यही वो वजह है, जिसके कारण इन कैमरों को मिररलेस के नाम से जाना जाता है. इन कैमरों में इमेज सीधे सेन्सर पर शो हो जाती है, जिसके द्वारा इनमे EVF का इस्तेमाल हो पाता है, उसी के जरिये आप अपनी इमेज को स्क्रीन पर देख पाते हैं.

Difference between Mirrorless and DSLR in Hindi | DSLR और मिररलेस में क्या अंतर है !!

# DSLR अक्सर मिररलेस से बड़े होते हैं और इनका वजन भी अधिक होता है.

# मिररलेस का साइज व वजन कम होने के कारण ये लोगों को DSLR से ज्यादा आकर्षित करता है.

# DSLR में Phase Detection Technology का प्रयोग होता है जिसके कारण इसमें ऑटो फोकस आसानी से और फास्ट होता है वहीं दूसरी तरफ Mirror-Less कैमरा में Contrast Based Detection टेक्नालजी का इस्तेमाल किया जाता है, जिसके जरिये ये कांट्रास्ट ज्यादा होने वाली जगह पर ही अधिक फोकस करता है.

# मिररलेस कैमरा में लेंस मूवेबल नहीं होते हैं जबकि DSLR में होते हैं.

# वीडियो के लिए लोग मिररलेस कैमरा अधिक पसंद करते हैं क्यूंकि DSLR में विडियो बनाते वक़्त ऑटो फोकस सिस्टम सही से काम नहीं करता है.

# DSLR की बैटरी अच्छी होती है जबकि मिररलेस में वीडियो की क्वालिटी अच्छी रहती है.

# मिररलेस में EVF का प्रयोग होता है, जबकि DSLR में इसकी जरूरत नहीं होती है.

तो दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी किसी लगी और आपके कितना काम आयी हमे अवश्य बताएं और यदि आपके मन में कोई सवाल या सुझाव भी हो तो हमे बताना न भूले क्यूंकि हमे अच्छा लगेगा कि आप हमसे सम्पर्क कर के हमे और बेहतर बनाने में मदद करते हैं तो.

Ankita Shukla :अंकिता शुक्ला Oyehero.com की कंटेंट हेड हैं. जिन्होंने Oyehero.com में दी गयी सारी जानकारी खुद लिखी है. ये SEO से जुडी सारे तथ्य खुद हैंडल करती हैं. इनकी रूचि नई चीजों की खोज करने और उनको आप तक पहुंचाने में सबसे अधिक है. इन्हे 1.5 साल का SEO और 3.5 साल का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है !! नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में आपको हमारे द्वारा लिखा गया ब्लॉग कैसा लगा. बताना न भूले - धन्यवाद 😊😊😊 !!