You are currently viewing ECR और Non ECR पासपोर्ट में क्या अंतर है !!

ECR और Non ECR पासपोर्ट में क्या अंतर है !!

नमस्कार दोस्तों….आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि ECR और Non ECR क्या होता है और इनमे क्या क्या अंतर पाए जाते हैं. जैसे कि हम सब आज के समय अधिक पैसे कमाना, अधिक शिक्षा पाना चाहते हैं जिसके लिए लोग बाहर भी जाना पसंद करते हैं. यहाँ बाहर जाने का मतलब विदेश से होता है. जहाँ लोग जाके अधिक से अधिक पैसा कमाना चाहते हैं.

जब बात विदेश जाने की जाये तो हम ये कैसे भूल सकते हैं की हमे देश से बाहर जाने के लिए पासपोर्ट की आवश्यकता होती है. बिना पासपोर्ट के बाहर जाना सम्भव नहीं है और जब बात पासपोर्ट की हो तो ये भी आपको पता होना आवश्यक है कि पासपोर्ट को दो कैटगरी में बाटा गया है. पहला ECR और दूसरा Non ECR. तो चलिए शुरू करते हैं इसी विषय में बात करना।

ECR क्या है | What is ECR in Hindi !!

ECR की फुल फॉर्म होती है “Emigration Check Required” जिसे हिंदी में “उत्प्रवासन जांच आवश्यक” कहा जाता है. ये एक प्रोसेस और कैटागोरी है जो देश के उन लोगों के लिए बनाई गयी जो पासपोर्ट बनबाते समय सभी तरह से एलिजिबल नहीं होते हैं. यहां एलिजिबल का मतलब है कि वो व्यक्ति जो 18 साल से कम हो, या जिसने १०वीं पास न की हो. ये प्रोसेस देशवासियों की सुरक्षा हेतु बनाई गयी हैं जिनसे उनके साथ विदेश में धोखाधड़ी न हो पाए और वहां कम पढ़े लिखे या कम उम्र के लोगों को सताया तथा उन्हें मजदूरी जैसे अनचाहे और छोटे काम करने पे मजबूर न किया जाये. जब आपके पासपोर्ट पे “Emigration Check Required” की मोहर लग जाती है तो आपको कुछ प्रोसेस पूर्ण कर के खुद एलिजिबल साबित करना होता है जिसके बाद ही आप विदेश में रह सकते हैं.

NECR/ECNR क्या है | What is NECR/ECNR in Hindi !!

ECNR की फुल फॉर्म होती है “Emigration Check Not Required”. ये भी पासपोर्ट बनवाने के समय की एक प्रोसेस और कैटगरी है जिसमे आपको किसी प्रकार की जाँच की आवश्यकता नहीं होती सरकार द्वारा। क्यूंकि यदि आपको ECNR कैटगरी में रखा गया है इसका मतलब आप विदेश में रहने के लिए सक्षम हैं. जब आप पासपोर्ट बनवाते हैं तो आपको कुछ डॉक्यूमेंट सबमिट करने होते हैं जिसमे आप अपनी १०वीं या उससे ऊपर की मार्कशीट सब्मिट कर सकते हैं या आप अपने इनकम टैक्स return की अप्लाई की हुई रसीद दिखा सकते हैं लेकिन इस केस में आपके द्वारा इनकम टैक्स दिया होना चाहिए या फिर आपकी आयु ५० वर्ष से अधिक हो. या फिर आपके पास किसी प्रकार का तीन साल का डिप्लोमा हो. और इसमें यदि कोई बच्चा 18 वर्ष से कम का है तो वो विदेश में तभी रह सकता है जब उसके माता पिता उसके साथ विदेश में रह रहे हों या रहने जा रहे हों वो भी ECNR पासपोर्ट के जरिये.

Difference Between ECR and Non ECR Category in Hindi !!

# ECR कैटेगरी में आने वाले लोग केवल विदेश में घूमने जा सकते हैं लेकिन रहने के लिए उन्हें ECNR कैटेगरी में होना आवश्यक है.

# घूमने के लिए आपके पासपोर्ट पे ECR या ECNR में से कोई भी मोहर लगी हो कोई फर्क नहीं पड़ता।

# आपको विदेश में रहने तथा कमाने के लिए जाने के लिए आपके पासपोर्ट का ECNR कैटेगरी में होना जरूरी होता है.

# ECR कैटेगरी के पासपोर्ट का मतलब है की आपको कुछ वैरिफिकेशन सरकार द्वारा कराने होंगे और आपको उसमे सारे नियम पुरे करते हुए खुद को विदेश में रहने योग्य साबित करना होगा लेकिन ECNR कैटेगरी में आपको किसी वैरिफिकेशन की जरूरत नहीं पड़ती है.

# ECR की मोहर के बाद अधिकतर बाहर की कंपनियां आपको नौकरी देने में हिचकिचाने लगती है लेकिन ECNR में आपको बाहर की कंपनियां आराम से नौकरी दे देती हैं.

ECR और Non ECR पासपोर्ट में क्या अंतर है | Difference Between ECR and Non ECR Passport in Hindi !!

# पासपोर्ट को दो कैटेगरी में बाट दिया गया है पहला है ECR और दूसरा ECNR.

# ECNR पासपोर्ट विदेश में जो व्यक्ति रहना चाहते हैं उनके लिए अधिक फायदेमंद है जबकि ECR पासपोर्ट वाले विदेश में रहने के लिए सक्षम नहीं होते. उन्हें विदेश में रहने का मौका तब ही मिलता है जब उनका पासपोर्ट ECNR हो जाये.

# ECR एक प्रोसेस है जिसके अंतर्गत आप यदि सरकार के नियमो के अंदर नहीं आते हैं पासपोर्ट बनवाते समय तो आपके पासपोर्ट पे ECR की मोहर लगा दी जाती है जिसके बाद आप तब तक विदेश में नहीं रह सकते जब तक आपका पासपोर्ट ECNR न हो जाये और ECNR होने के लिए आपको कुछ वैरिफिकेशन कराने होते हैं.

# यदि आप ECNR के अंदर आते हैं तो आपको किसी प्रकार के वैरिफिकेशन की आवश्यकता नहीं होती है लेकिन यदि आप ECR के अंदर आते हैं तो आपको वैरिफिकेशन की जरूरत होती है.

# ECR और ECNR दोनों पासपोर्ट वाले लोग विदेश में घूमने जा सकते हैं लेकिन विदेश में रहने के लिए ECNR पासपोर्ट ही होना चाहिए. ECNR एक प्रोसेस है जिसमे आपकी एलिजिब्लिटी चेक की जाती है विदेश में आप रह सकते हैं की नहीं। यदि आप रहने योग्य हैं तो आपको ECNR पासपोर्ट मिलता है और यदि रहने योग्य नहीं हैं तो आपको ECR पासपोर्ट मिलता है.

आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी कैसी लगी हमे अवश्य बताएं और साथ ही यदि कोई सुझाव या सवाल मन में हो तो वो भी आप हमे बता व पूछ सकते हैं नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स के जरिये.

Ankita Shukla

✔️ izoozo.com Provide Hindi & English Content Writing Services @ low Cost ✔️अंकिता शुक्ला Oyehero.com की कंटेंट हेड हैं. जिन्होंने Oyehero.com में दी गयी सारी जानकारी खुद लिखी है. ये SEO से जुडी सारे तथ्य खुद हैंडल करती हैं. इनकी रूचि नई चीजों की खोज करने और उनको आप तक पहुंचाने में सबसे अधिक है. इन्हे 4.5 साल का SEO और 6.5 साल का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है !! नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में आपको हमारे द्वारा लिखा गया ब्लॉग कैसा लगा. बताना न भूले - धन्यवाद ??? !!

Leave a Reply