You are currently viewing CBSE और RBSE में क्या अंतर है !!

CBSE और RBSE में क्या अंतर है !!

नमस्कार दोस्तों….आज हम आपको बताने जा रहे हैं CBSE बोर्ड और RBSE बोर्ड के बारे में. पहले हम बताएंगे कि CBSE बोर्ड और RBSE बोर्ड होता क्या है फिर बताएंगे कि इन दोनों में अंतर क्या क्या होता है और साथ ही आपको ये जानने में भी आसानी होगी कि आखिर कौन सा बोर्ड ज्यादा अच्छा होता है. तो चलिए शुरू करते हैं आज का टॉपिक.

RBSE बोर्ड क्या है | What is RBSE Board in Hindi !!

RBSE का पूरा नाम “Rajasthan Board of Secondary Education” है, ये राजस्थान सरकार की एक राज्य एजेंसी है और इसका मुख्यालय अजमेर में है, ये “Board of Secondary Education, Rajasthan” के अंतर्गत आता है. जो कि राजस्थान का राज्य बोर्ड है, जिसका कार्य राज्य बोर्ड को बढ़ाना और उनका डेवलपमेंट करना है. इसके द्वारा ही १० और १२ की अंतिम परीक्षा भी आयोजित की जाती हैं. इसमें चलने वाले पाठ्यक्रम राज्य सरकार के निर्देशानुसार चलाये जाते हैं. इसके अंदर आने वाले स्कूल अंग्रेजी और हिंदी दोनों तरह के होते हैं.

CBSE बोर्ड क्या है | What is CBSE Board in Hindi !!

CBSE बोर्ड की फुल फॉर्म “Central Board of Secondary Education” है जिसे हिंदी में “केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड” के रूप में जाना जाता है. सीबीएसई बोर्ड का निर्माण उन स्कूल के लिए किया गया है जो केंद्र सरकार के अंदर आते है. ये बोर्ड भारतीय स्कूलों के लिए अपने द्वारा बनाई गयी नीतियों और पाठ्यक्रम का निर्माण करता है. हर किसी की पहली पसंद है CBSE बोर्ड, लेकिन इन्हे वो माता पिता सबसे अधिक पसंद करते है जो केंद्र सरकार के लिए कार्यरत होते हैं और उन सभी का समय समय पे तबादला अलग अलग स्थानों में होता रहता है. इस केस में CBSE बोर्ड से पढ़ने वाले बच्चों को अधिक समस्याएं नहीं आती, क्यूंकि सभी स्थानों में CBSE बोर्ड की शिक्षा समान रूप से दिलाई जाती है.

सीबीएसई बोर्ड में विज्ञान, गणित और कुछ अन्य विषयों को अधिक महत्व मिला है. और इनके अंतर्गत आने वाले स्कूल अधिकतर अंग्रेजी में और कहीं कहीं हिंदी भाषा में होते है. सभी स्कूल जो CBSE बोर्ड द्वारा पंजीकृत हैं उन्हें इसमें सीबीएसई बोर्ड के बनाये नियमो के अनुसार कार्य करना होता है. CBSE बोर्ड में Continuous और Comprehensive Evaluation (CCE) का प्रयोग होता है और इसमें ग्रेडिंग सिस्टम चलाया जाता है. CBSE बोर्ड में वैज्ञानिक तरीकों को अधिक महत्व देते हुए पाठ्यक्रम बनाया गया है. ये अपने सिलेबस को समय समय पे बदलते रहते हैं.

Difference between CBSE and RBSE in Hindi | CBSE और RBSE में क्या अंतर है !!

RBSE का पूरा नाम “Rajasthan Board of Secondary Education” और CBSE का पूरा नाम “Central Board of Secondary Education” है.

RBSE राजस्थान सरकार की एक राज्य एजेंसी है, ये “Board of Secondary Education, Rajasthan” के अंतर्गत आता है. जबकि CBSE एक बोर्ड है जो परीक्षा आयोजित कराता है.

# RBSE और CBSE बोर्ड दोनों हिंदी और अंग्रेजी माध्यम के स्कूल के बोर्ड हो सकते हैं.

RBSE केवल राजस्थान के स्कूल तक सीमित होता है जबकि CBSE बोर्ड न केवल भारत में बल्कि 24 अन्य देशों के स्कूल में भी फैला है.

# इन दोनों बोर्ड का काम १० और १२ की अंतिम परीक्षा आयोजित करना है.

# वैसे तो दोनों ही बोर्ड अच्छे हैं, लेकिन यदि दोनों में तुलना की जाये तो CBSE बोर्ड RBSE से ज्यादा अच्छा है.

उम्मीद करते हैं आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी से कुछ फायदा अवश्य मिला होगा और साथ ही आपको हमारा ब्लॉग पसंद भी आया होगा. यदि फिर भी आपको कोई गलती दिखाई दे, या कोई सवाल या सुझाव मन में हो. तो आप हमे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के बता सकते हैं. हम पूरी कोशिश करेंगे कि हम आपकी उम्मीदों पे खरा उतर पाएं। धन्यवाद !!!

Ankita Shukla

✔️ izoozo.com Provide Hindi & English Content Writing Services @ low Cost ✔️अंकिता शुक्ला Oyehero.com की कंटेंट हेड हैं. जिन्होंने Oyehero.com में दी गयी सारी जानकारी खुद लिखी है. ये SEO से जुडी सारे तथ्य खुद हैंडल करती हैं. इनकी रूचि नई चीजों की खोज करने और उनको आप तक पहुंचाने में सबसे अधिक है. इन्हे 4.5 साल का SEO और 6.5 साल का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है !! नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में आपको हमारे द्वारा लिखा गया ब्लॉग कैसा लगा. बताना न भूले - धन्यवाद ??? !!

Leave a Reply