You are currently viewing KEM अस्पताल का इतिहास !!

KEM अस्पताल का इतिहास !!

KEM Hospital परिचय !!

दोस्तों नमस्कार, आज हम आपसे भारत के अंदर सबसे प्रमुख शिक्षण और चिकित्सा देखभाल संस्थानों में से एक संस्था के बारे में बात करने वाले हैं | दोस्तों हम किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल की बात कर रहे है | जिसे KEM (King Edward Memorial Hospital)के नाम से भी जाना जाता है | इस हॉस्पिटल के इतिहास, अन्य सुविधाओं ,पता ,मार्गदर्शन तथा उदेश्यों की हम विस्तृत चर्चा करेंगे | किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल भारत की सबसे प्रमुख संस्थानों में से एक है | इसकी स्थापना सन 1926 में हुई थी | किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल में हॉस्पिटैलिटी के साथ साथ शिक्षण संस्थान की भी आधारशिला रखी गई है | जिसके अंदर इनका खुद का अपना संस्थान है ।  जिसका नाम सेठ गोरधनदास सुंदर दास मेडिकल कॉलेज है। इस कॉलेज की स्थापना सन 1926 में की गई थी। मेडिकल कॉलेज की बात करें तो यहां पर शिक्षण के अंदर स्नातक , स्नातकोत्तर , और प्रोफेशनल मेडिकल कोर्सेज तकरीबन दो हजार से भी ज्यादा विद्यार्थियों को शिक्षित किया जाता है | तथा अन्य संस्थानों की तरह सर्टिफिकेट में डिग्री दी जाती है। इन सब के साथ-साथ यहां पर शारीरिक और वेबसाइट चिकित्सा में तथा विभिन्न प्रकार की सहयोगी विशेषता में स्नातक और पीएचडी की संपूर्ण शिक्षा पूरे पाठ्यक्रम के साथ दी जाती है | इन सब के साथ साथ इनका एक संस्थान बी.एससी नर्सिंग का भी डिप्लोमा करवाता है।

किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल में कर्मचारियों की संख्या तकरीबन 390 चिकित्सक कर्मचारी , 550 परमानेंट डॉक्टर है जोक इन पूरी 24 घंटे मरीजों की सेवा के लिए उपलब्ध रहते हैं | अस्पताल के अंदर मरीजों के लिए कुल बेड की संख्या 1800 से भी ज्यादा है | हॉस्पिटल से मिली जानकारी के अनुसार यहां पर सालाना 1800000 से भी ज्यादा मरीज और 85000 रोगियों का इलाज बुनियादी देखभाल और उनके संपूर्ण उपचार सुविधाओं के द्वारा संपन्न किया जाता है |

KEM Hospital शिक्षण संस्थान !!

किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल की एक और संस्था इसका नाम सेठ गोरधनदास सुंदरदास मेडिकल कॉलेज है रानी अपनी शिक्षण संस्थान की शुरुआत बहुत समय पहले ही कर दी थी | यहां पर संस्थागत प्राथमिकताओं के साथ साथ चिकित्सा हेतु राहत , चिकित्सा विज्ञान से संबंधित शिक्षा , और शिक्षण अनुसंधान किया गया है।

KEM Hospital आपातकालीन सेवाओं का प्रारंभ !!

हॉस्पिटल के अंदर एआरटी एमरजैंसी मेडिकल सर्विसेज जैसी सुविधाएं थोड़ी बाद में शुरू की गई थी | किंग एडवर्ड मेमोरियल हॉस्पिटल के अंदर अत्याधुनिक आपातकालीन चिकित्सा सेवा चित्र की शुरुआत 5 अक्टूबर 2000 में की थी। इमरजेंसी की सेवाओं के लिए मुख्य इमारत का निर्माण अस्पताल की इमारत के तल पर स्थित है। यहां पर प्राचीन दुर्घटना ,ऑपरेशन थिएटर , सर्जरी वार्ड स्थित है | यह क्षेत्र तकरीबन 15000 वर्ग फुट क्षेत्र में फैला हुआ है यहां पर सिर्फ आपातकालीन सुविधाएं उपलब्ध है| की सबसे खास बात यह है कि आपातकालीन सुविधाओं के लिए अलग से चिकित्सकों की प्रबंध किया गया है।

KEM Hospital चैरिटी ट्रस्ट !!

इनकी संस्थाओं में से एक संस्था में इनका चैरिटी ट्रस्ट भी बना हुआ है | उन्होंने यह संस्थान शुरू करने के लिए तकरीबन 3000000 रूपए की लागत दान के रूप में हॉस्पिटल को दी थी | जिसके कारण यह सेवा संस्था शुरू हो पाई।

KEM Hospital अन्य व्यवस्था !!

इस सेवा संस्थान की सबसे अच्छी विशेषता तो यह है कि यहां पर आपातकालीन की स्थिति में देखभाल और सुविधा के लिए पूरे एरिया को कंप्यूटरीकृत संसाधनों से परिपूर्ण किया गया है। यहां पर स्थानीय और चिकित्सीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए दोनों को एक नेटवर्क में जोड़ा गया है ताकि दोनों ने कहीं भी आवश्यकता उत्पन्न होने पर एक दूसरे से तुरंत संपर्क किया जा सके | यहां पर इनका खुद का एक सॉफ्टवेयर बनाया गया है जिसके माध्यम से यह सारा काम किया जाता है |

KEM Hospital पहुंचने का मार्ग !!

यहाँ पर पहुचने के लिए आपको सबसे पहले मुंबई जाना होगा ,वहा से आप बस से परेल के लिए जायेंगे | परेल इलाके के एक मुख्य हाईवे आचार्य डोंडे मार्ग पर जाने पर अप यहाँ पहुच सकते हो | इस हॉस्पिटल को पूर्णतया राज्य राजमार्गो से जोड़ा गया | आप बस , कार या फिर हवाई जहाज से यहाँ जा सकते हो | पूरा पता नीचे दिया है – :

आचार्य डोंडे मार्ग, परेल,

मुंबई 400 012. भारत।

दूरभाष: 91-22-2410 7000 फैक्स: 91-22-2414 3435

Ankita Shukla

✔️ izoozo.com Provide Hindi & English Content Writing Services @ low Cost ✔️अंकिता शुक्ला Oyehero.com की कंटेंट हेड हैं. जिन्होंने Oyehero.com में दी गयी सारी जानकारी खुद लिखी है. ये SEO से जुडी सारे तथ्य खुद हैंडल करती हैं. इनकी रूचि नई चीजों की खोज करने और उनको आप तक पहुंचाने में सबसे अधिक है. इन्हे 4.5 साल का SEO और 6.5 साल का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है !! नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में आपको हमारे द्वारा लिखा गया ब्लॉग कैसा लगा. बताना न भूले - धन्यवाद ??? !!

This Post Has One Comment

  1. Vaishali

    Tyroid nodul surgery बिना गले को कटे हो सकती है क्या मू से

Leave a Reply