X
    Categories: Gyan

(प्रकिण्व की परिभाषा) Definition of Enzymes in Hindi !!

प्रकिण्व की परिभाषा | Definition of Enzymes in Hindi !!

जीवतंत्र के अंतर्गत कई प्रकार की रासायनिक प्रक्रियाओं के उत्प्रेरण के लिए विशेष प्रकार के कार्बनिक उत्प्रेरक मौजूद होते हैं। जिन्हें एंजाइम या प्रकिण्व कहा जाता है।

इनका नाम प्रकिण्व तब से पड़ा जब कुहने (Kuhne, 1878) ने यीस्ट (yeast) में पाए जाने वाले खमीर (ferment) को एंजाइम नाम से सम्बोधित किया। इनका संश्लेषण (synthesis) स्वयं कोशों के जीवद्रव के अंदर होता है। एक मोटे अनुमान के अनुसार किसी जीव कोशा को जीवित दशा में बनाये रखने के लिए 1 लाख विविध एंजाइमों की आवश्यकता होती है।

वैज्ञानिकों के द्वारा अभी तक 150 एंजाइमों के विशुद्ध रवे (crystals) भी निर्मित किये जा चुके हैं।

# बुकनर (Buchner, 1897) ने सबसे पहले यीस्ट (yeast) से जाइमेज (zymase) नामक एंजाइम की खोज की थी।

# उसके बाद नोबेल पुरुस्कार विजेता, सुमनर (Sumner,1926) ने सबसे पहले यूरियेज (Urease) नामक एंजाइम को लोबिया के बीजों से निकालकर इसको रवे (crystals) के रूप में लाया था।

# नोरथ्राप (Northrop, 1930) ने जठर रस (gastric juice) और अग्न्याशयी रस (pancreatic juice) से क्रमशः पेप्सिन एवं ट्रिप्सिन निकालकर इनके रवे बनाये थे।

Ankita Shukla: अंकिता शुक्ला Oyehero.com की कंटेंट हेड हैं. जिन्होंने Oyehero.com में दी गयी सारी जानकारी खुद लिखी है. ये SEO से जुडी सारे तथ्य खुद हैंडल करती हैं. इनकी रूचि नई चीजों की खोज करने और उनको आप तक पहुंचाने में सबसे अधिक है. इन्हे 1.5 साल का SEO और 3.5 साल का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है !! नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में आपको हमारे द्वारा लिखा गया ब्लॉग कैसा लगा. बताना न भूले - धन्यवाद 😊😊😊 !!