You are currently viewing एल्गोरिथ्म और फ्लोचार्ट में क्या अंतर है !!

एल्गोरिथ्म और फ्लोचार्ट में क्या अंतर है !!

नमस्कार दोस्तों…आज हम आपको “Algorithm and Flowchart” अर्थात “एल्गोरिथम और फ़्लोचार्ट” के विषय में बताने जा रहे हैं. आज हम बताएंगे कि “एल्गोरिथम और फ़्लोचार्ट क्या है और इनमे क्या अंतर होता है?”. प्रोग्रामिंग में, किसी भी प्रोग्राम को सोल्व करने के लिए सबसे अच्छा विकल्प एल्गोरिथ्म होता है, जिसमे समस्या को समझने और उसे डील करने के लिए अनुक्रमिक चरण होते हैं.

जैसा कि हम जानते हैं कि प्रोग्रामिंग बहुत आसान चीज नहीं है, इसलिए प्रोग्रामर की सहायता के लिए एल्गोरिथ्म को दो रूपों में विकसित किया गया है जो कि फ्लोचार्ट और स्यूडोकोड है। फ्लोचार्ट एक ऐसा विकल्प है, जिसमे हम विभिन्न प्रतीकों के प्रयोग से एल्गोरिथ्म को आसानी से समझ सकते हैं. दोस्तों आज का टॉपिक भी हमारा एल्गोरिथ्म और फ्लोचार्ट के ऊपर ही है. तो अधिक समय न नष्ट करते हुए मुख्य टॉपिक पर आते हैं.

एल्गोरिथ्म क्या है | What is The Algorithm in Hindi !!

एल्गोरिथ्म क्या है | What is The Algorithm in Hindi !!

किसी भी कंप्यूटर की सारी प्रोसेस प्रोग्राम के जरिये ही होती है और जैसा कि हम जानते हैं, एक कंप्यूटर बड़ी से बड़ी समस्या को हल करने की ताकत रखता है. लेकिन ये सब कंप्यूटर पर सम्भव केवल प्रोग्राम के जरिये होता है और एक प्रोग्राम को डिज़ाइन एल्गोरिथ्म के आधार पर किया जाता है. एक एल्गोरिथ्म चरणों की एक श्रृंखला के रूप में होती है जिसे किसी भी समस्या को हल करने के लिए निष्पादित किया जाता है।

जब भी कोई प्रोग्रामर प्रोग्राम लिखता है, तो वो एक एल्गोरिथ्म को अवश्य निर्मित करता है, जिसके जरिये वो एक अच्छा और सटीक प्रोग्राम बनाने में सक्षम हो पाता है. हम सभी जानते हैं कि एक प्रोग्राम निर्देशों का सेट होता है, जो दिए गए इनपुट का वांछित आउटपुट देता है. क्यूंकि एक प्रोग्राम बहुत महत्वपूर्ण चीज है, इसलिए इसे बड़े ध्यानपूर्वक बनाने के लिए एल्गोरिथ्म को डिज़ाइन करना अवश्य है.

और एक एल्गोरिथ्म को भी बहुत ध्यानपूर्वक डिज़ाइन करना चाहिए जिससे जब प्रोग्राम बने तो वो गलती न करे. एक और भी कारण है एल्गोरिथ्म को ठीक से डिज़ाइन करने का, वो यह है कि एक एल्गोरिथ्म का डिज़ाइन कंप्यूटिंग संसाधनों के प्रभावी उपयोग को भी सुनिश्चित करता है, उदाहरण के लिए, सीपीयू , रैम, आदि।

फ्लोचार्ट क्या है | What is The Flow Chart in Hindi !!

फ्लोचार्ट क्या है | What is The Flow Chart in Hindi !!

फ्लोचार्ट एक बहुत अच्छा और आसान तरीका होता है एक एल्गोरिथ्म को रिप्रेजेंट करने का. इसे कुछ लोग फ्लो डायग्राम भी कहते हैं. ये एक प्रोसेस या एक विशेष उत्पादन के लिए आवश्यक चरणों की एक विस्तृत श्रृंखला को दर्शाता है. फ्लोचार्ट के जरिये अल्गोरिथम को सुलझाने के लिए विभिन्न प्रकार के प्रतीक और नियंत्रण रेखाओ का प्रयोग किया जाता है | फ्लोचार्ट के प्रत्येक प्रतीक अलग अलग कार्य करते हैं. इसमें कई प्रकार के बॉक्स होते हैं, जो अलग अलग ऑपरेशन को दर्शाते हैं. इसके जरिये एल्गोरिथ्म को समझना बहुत आसान हो जाता है.

फ्लोचार्ट की सहायता से, एप्लिकेशन डिजाइनर आसानी से प्रक्रिया के विभिन्न घटकों को अलग कर सकता है। यह समस्या को चरण-दर-चरण प्रक्रिया प्रदान करके विश्लेषण की सुविधा प्रदान कर सकता है। इसमें राउंडेड रेक्टेंगल, आयत, डायमंड, नियंत्रण फ्लो रेखा, चतुर्भुज, आदि चिन्ह इनके अलग अलग कार्यों को प्रदर्शित करते हैं.

Difference between Algorithm and Flowchart in Hindi | एल्गोरिथ्म और फ्लोचार्ट में क्या अंतर है !!

# एल्गोरिथ्म एक ऐसी प्रोसेस है जिसमे समाधान के तर्क की व्याख्या करने के लिए अनुक्रमिक चरणों का संयोजन होता है जबकि फ्लोचार्ट में चित्र और रेखाओं का प्रयोग किया जाता है.

फ्लोचार्ट की अपेक्षा एल्गोरिथ्म ज्यादा जटिल होती है.

# एल्गोरिथ्म की अपेक्षा फ्लोचार्ट को समझना आसान होता है.

# एल्गोरिथ्म को शब्दों, अंकों और कुछ प्रतीकों के प्रयोग से लिखा जाता है जिसे प्रोग्रामर समझ सके वहीं दूसरी ओर फ्लोचार्ट को विभिन्न आकृतियों और प्रतीकों के प्रयोग से बनाया जाता है.

# एल्गोरिथ्म में कोई कठोर नियम लागू नहीं होते हैं लेकिन फ़्लोचार्ट को पूर्वनिर्धारित नियमों के आधार पर बनाया जाता है.

# एल्गोरिथ्म में फ्लोचार्ट की अपेक्षा एरर और बग का जल्दी पता लगाया जा सकता है.

दोस्तों हम पूरी उम्मीद करते है कि आपको हमारे ब्लॉग पसंद आ रहे हैं और आपके काफी हद तक काम भी आ रहे हैं. यदि फिर भी कोई गलती आपको हमारे ब्लॉग में दिखे या आपके मन में कोई अन्य सवाल या सुझाव हो तो वो भी आप हमसे पूछ सकते हैं. हम पूरी कोशिश करेंगे उस सवाल का जबाब आपको देने और आपके सुझाव को समझने और उसे पूरा करने की. धन्यवाद !!!

Ankita Shukla

✔️ izoozo.com Provide Hindi & English Content Writing Services @ low Cost ✔️अंकिता शुक्ला Oyehero.com की कंटेंट हेड हैं. जिन्होंने Oyehero.com में दी गयी सारी जानकारी खुद लिखी है. ये SEO से जुडी सारे तथ्य खुद हैंडल करती हैं. इनकी रूचि नई चीजों की खोज करने और उनको आप तक पहुंचाने में सबसे अधिक है. इन्हे 4.5 साल का SEO और 6.5 साल का कंटेंट राइटिंग का अनुभव है !! नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में आपको हमारे द्वारा लिखा गया ब्लॉग कैसा लगा. बताना न भूले - धन्यवाद ??? !!

Leave a Reply